Mucormycosis (Black Fungus)

Mucormycosis (Black Fungus) - देश भर में फ़ैली कोरोना महामारी के बाद अब ब्लैक फंगस नामक रोग से  भी पुरे देश में भय का माहोल हैं | इस रोग का नाम Mucormycosis बताया जा रहा हैं जिसे ब्लैक फंगस भी कहा जा रहा हैं | डॉक्टरो ने इस बीमारी के बारे में कई लक्षण तथा ईलाज भी बताये हैं | ब्लैक फंगस धीरे - धीरे लोगो को अपनी चपेट में ले रहा हैं तथा मामले की गभीरता को देख कर कई राज्यों की सरकारों ने इसे महामारी भी घोषित कर दिया हैं | 

Mucormycosis (Black Fungus) - ब्लैक फंगस क्या है?  ब्लैक फंगस के  कारण, लक्षण और इलाज - 


1 .Mucormycosis - म्यूकोरमायकोसिस यानि ब्लैक फंगस क्या हैं -

ब्लैक फंगस म्यूकॉर्मिसेट्स  नाम के सूक्षम जीवों से फैलने वाला एक फंगल संक्रमण हैं | म्यूकॉर्मिसेट्स  नामक जीव जब हमारी तव्चा के साथ कांटेक्ट में आकार के या साँस के साथ हमारे शरीर में पहुचकर हमारे आँखों , फेफड़ो तथा दिमाग पर हमला करते हैं | 


2 .ब्लैक फंगस होने का खतरा किन लोगों को होता हैं अधिक -

ब्लैक फंगस के होने का खतरा सभी आयु के लोगों को होता हैं | हम कई बार म्यूकॉर्मिसेट्स नामक जीवो के सम्पर्क में आते हैं तथा हम पर उसका कोई असर भी नहीं होता हैं क्युकि हमारा इम्युनिटी सिस्टम म्यूकॉर्मिसेट्स  नामक जीवो को आसानी से हरा देता हैं | परन्तु जिन लोगो का इम्युनिटी सिस्टम कमजोर होता हैं उन्हें यह फंगल संक्रमण अपनी चपेट में आसानी से ले सकता है या जो लोग गंभीर बीमारिओं से पीडीत है उन्हें यह होने का खतरा बहुत अधिक होता हैं | 

जैसे - 

  • मधुमेह के रोगी 
  •   कुपोषण के शिकार
  •   अधिक मात्रा में स्टेरॉयड का इस्तेमाल करने वाले 
  •   कैंसर के रोगी 
  •   लो इम्युनिटी पॉवर 
  •    कोरोना से ठीख हुए लोग 

           

3 .ब्लैक फंगस ( म्यूकोरमायकोसिस ) के लक्षण - 

ब्लैक फंगस हमारे शरीर के अलग - अलग भागो में विकसित होता हैं जिससे इसके लक्षण भी अलग - अलग होते हैं | तथा इसके कुछ लक्षण प्रमुख होते है जो म्यूकोरमायकोसिस के मरीजों में सामान्यतया देखने को मिलते हैं | 


जैसे : - 

  •              नाक से काला पानी 
  •              सर दर्द 
  •              पेट में दर्द 
  •               चेहरे पर सुजन 
  •               आँखों से दिखाई न देना 
  •               नाक तथा मुह अन्दर से काला हो जाना 
  •              उल्टी होना 
  •              आँखों में सुजन 
  •                आँखों में दर्द 

4 .ब्लैक फंगस ( म्यूकोरमायकोसिस ) का ईलाज -             

                                                          म्यूकोरमायकोसिस के रोगीओं का ईलाज उनकी अवस्था के अनुसार होता हैं | जिन मरीजों में यह अभी शुरुआती अवस्था में है उन्हें कुछ ड्रग्स की सहायता से स्वस्थ किया जा सकता हैं तथा जिन लोगों में यह संक्रमण आँखों तक पहुँच गया हैं उन्हें सर्जरी की भी आवशयकता होती हैं | ब्लैक फंगस के लिये डॉक्टर पोसाकोनाजोल (Posaconazole) ,एंफोटेरिसिन-बी (Amphotericin B) आदि  एंटीफंगल ड्रग्स उपयोग करते हैं |  


5 . ब्लैक फंगस ( म्यूकोरमायकोसिस ) से बचाव के उपाय -  

                                                                                             ब्लैक फंगस से बचाव करने के लिये आप कुछ सावधानिया रख सकते हैं ताकि आप इससे काफी हद तक सुरक्षित रह सकते हैं -  

1 .इम्युनिटी बढ़ाने वाली चीजों का सेवन करें |

2 . एक्सरसाइज तथा योग करे | 

3 .धुल मीटी वाली जगहों से बचें |

4 . मास्क का प्रयोग करे |

5 . साफ - सफाई का पूरा ध्यान रखें |


नोट :-  यह जानकारी केवल आपकी जानकारी बढ़ाने के लिये हैं | कीसी भी ड्रग्स का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह लें |